जय हिन्द वन्देमातरम

जय हिन्द   वन्देमातरम

शनिवार, 27 अगस्त 2011

लोकतंत्र का जश्न



आज जैसे ही लोकसभा में और फिर राज्यसभा में अन्ना के जन लोकपाल  के तीनो मांगो को मेंज  थपथपाकर स्वीकार किया गया और फिर संसद के स्थायी समिति के पास भेजने की अपील की गई , भारतीय लोकतंत्र में एक नया अध्याय जुड़ गया.


लोग एक दूसरे को बधाई देने लग गए. बधाई देने का सिलसिला अपने-अपने अंदाज में देश के विभिन्न हिस्सों में लगातार जारी है . लोकतंत्र के जश्न की शुरुआत हो चुकी है . ................अभी बहुत कुछ करना शेष है.        आप सब को भी परिवर्तन के इस नए दौर के शुभारम्भ पर बधाई.

28 टिप्‍पणियां:

कुमार राधारमण ने कहा…

सावधान रहना चाहिए। कहीं अन्ना की आधी जीत की आशंका सही न साबित हो।

veerubhai ने कहा…

Saturday, August 27, 2011
अन्ना हजारे ने समय को शीर्षासन करवा दिया है ,समय परास्त हुआ जन मन अन्ना विजयी .
http://kabirakhadabazarmein.blogspot.com/
अरि आज तो बधाई गाओ रंग महल में ,अन्ना जी की आरती गाओ रंग महल में ,जन गण मन की आरती गाओ रंग महल में .
.मौसम भी यहाँ का अब बदलने लगा है ,बदली छटने लगी है , अर्थ पूर्ण रचना रची है आपने ,..........
Badhaai Rekhaaji .

veerubhai ने कहा…

अरि आज तो बधाई गाओ रंग महल में ,अन्ना जी की आरती गाओ रंग महल में ,जन गण मन की आरती गाओ रंग महल में .
.मौसम भी यहाँ का अब बदलने लगा है ,बदली छटने लगी है , अर्थ पूर्ण रचना रची है आपने ,........बधाई आपको रेखा जी राष्ट्रीय मुद्दे गंभीरता से उठाने के लिए ...
http://kabirakhadabazarmein.blogspot.com/

Sunil Kumar ने कहा…

अभी तो यह अंगड़ाई है आगे बहुत लड़ाई है , पहली जीत पर बधाई

रविकर ने कहा…

सहमत हूँ सुनील जी से ||

अभी तो यह अंगड़ाई है आगे बहुत लड़ाई है

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

आपको भी इस जीत की 'बधाई एवं शुभकामनाये..सवाई सिंह राजपुरोहित

G.N.SHAW ने कहा…

रेखा जी फिर भी इस सरकार के नियत पर भरोषा नहीं किया जा सकता ! अभी कुछ सांसदों को अन्ना के अनसन में भी शक हो ! उन्हें डाक्टर के रिपोर्ट चाहिए !

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

Ye pariyon ke desh ki kahani bhi badi ajeeb hai.
kal bhi sun kar bachche bhuke so gaye!
.
kahin ye LOKPAL aisa to nahin!

Arshad Ali ने कहा…

Ghor andhkaar me ek prakash punj bhi asim khushi de jata hai...

Kaise kaise kya-kya hua ANNA jee ke sath aur unka manobal ewm ham sabhi ki subhkaamnaayen aaj jit ka utsaw manane ka ek awsar diya hai...ANNA ji aaj kisi star se kam nahi jiski chamak sadew rahegi aur itihas gawah banega aaj ke LOKTANTRA me wastaw me LOKTANTRA ke jit ki,magar ladai baki hai aur jit aadhi jaisa ki ANNA ne kaha hai...Ek dipak jo jal chuka hai use jalaye rakhna hoga...aur jab tak bhrastachar khtam na ho jaaye hame lage rahna hoga...

Aapko dheron badhaiyan.

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

Waqt batayega aage kya hota hai...

veerubhai ने कहा…

अभी नहीं करना आराम ,पूरा करना है ये काम ,
लगे रहो भई सुबहो शाम ....
सोमवार, २९ अगस्त २०११
क्या यही है संसद की सर्वोच्चता ?
http://veerubhai1947.blogspot.com/

sm ने कहा…

its just one step towards victory

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

ईद मुबारक आप एवं आपके परिवार को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ..सुगना फाऊंडेशन मेघलासिया

ईद पर विशेष अनमोल वचन

veerubhai ने कहा…

बुधवार, ३१ अगस्त २०११
जब पड़ी फटकार ,करने लगे अन्ना अन्ना पुकार ....
जिन के हाथों में कल तक डंडे थे वो अब गुलदस्ते लेकर आ गयें हैं .दुश्मनी बहुत महंगी पड़ी अन्ना से इतनी की अब किसी से आँख भी न मिला पा रहें रहें हैं ।
जब पड़ी फटकार ,करने लगे अन्ना -अन्ना पुकार .
इस दौर में इन्हीं के कई प्रवक्ता अब स्वगत कथन करते से बुद्बुदातें हैं -"अन्ना जी में किसी दैवीय शक्ति का वास है .जो कुछ कह रहें हैं ,जो कुछ उनके मुख से निकल रहा है ,वही सच हो रहा है ."इसलिए अब ये दोस्ती का हाथ बढा रहें हैं ।
मेदान्ता में गेट वेळ सून के साथ "बोके "भेज रहें हैं ।
बशीर बद्र साहब बहुत पहले कह गए हैं -
दुश्मनी लाख सही ,ख़त्म न कीजे रिश्ते ,
दिल मिले या न मिले ,हाथ मिलाते रहिये ।
ये नया दौर है अन्ना से न बगावत करिए ।
सिर्फ पांच कौवे कांव कांव कर रहें हैं और इसे पूरी संसद का अपमान कह रहें हैं .क्रेनबेदी के संग विशेषाधिकार समिति में कड़े सवाल पूछने की बात कर रहें हैं ।

veerubhai ने कहा…

ईद और गणेश चतुर्थी मुबारक !

Maheshwari kaneri ने कहा…

अभी तो शुरुवात है आगे देखे क्या-क्या होता है...गणेश चतुर्थी की शुभकामना...

अभिषेक मिश्र ने कहा…

आपको भी बधाई.

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" ने कहा…

anna ke prayason ko apni kalam se hamein eun hi jawant rakhna hai..jeet ki manjil abhi bahut door hai... hame khus hokar nahi baith jaana chahiye... anna ke madhyam se kranti ki is chingari ko dhadkane ke aapke is prayas ko naman ke sath

Patali-The-Village ने कहा…

अभी तो शुरुवात है आगे देखे क्या-क्या होता है| पहली जीत पर बधाई|

ZEAL ने कहा…

Let us see how the things will take shape. But it is true that we all have some doubts and fears.

निवेदिता ने कहा…

आगे क्या होगा अभी सब अनिश्चित सा लग रहा है .....

veerubhai ने कहा…

.आभार !आपकी ब्लोगिया दस्तक हमारा संबल है .
मंगलवार, ६ सितम्बर २०११
विकिलीक्स आर एस एस और माया .....

http://veerubhai1947.blogspot.com/2011/09/blog-post_06.html

संजीव ने कहा…

बढि़या प्रयास है आपका, धन्‍यवाद.

सदा ने कहा…

बधाई के साथ शुभकामनाएं ।

veerubhai ने कहा…

शुक्रिया !रेखा जी !

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

बस थोडे इंतजार के बाद स्थितियां साफ़ हो पायेंगी.

रामराम.

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

जब तक लोकपाल बिल नहीं आता तब तक यह जीत आधी ही मानी जायेगी .. शुभकामनायें

uljheshabd ने कहा…

इस सुरवाती जीत का मुझे तो नहीं पता पर अन्ना के जनांदोलन ने सत्ताधीशों को एक बार फिर जनता की ताकत का अंदाजा तो करा ही दिया है ....उत्तम रचना ..बधाई